New

पंजाब राजभवन में मणिपुर, मेघालय, त्रिपुरा के स्थापना दिवस पर रंगारंग समारोह का हुआ आयोजन

author
0 minutes, 1 second Read
Spread the love

न्याय परिक्रमा न्यूज़ चंडीगढ़

चंडीगढ़, (अच्छेलाल) राष्ट्रीय एकता को बढ़ावा देते हुए पंजाब राजभवन में मणिपुर, मेघालय और त्रिपुरा का स्थापना दिवस बड़े ही हर्षोल्लास से मनाया गया। इस दौरान अयोजित एक रंगारंग कार्यक्रम में इन तीनों प्रदेशों की जीवंत संस्कृतियों से लोगों को रू-ब-रू होने का अवसर मिला। रविवार को आयोजित इस कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों के 100 से अधिक गणमान्य व्यक्ति, अधिकारी और प्रतिनिधि उपस्थित थे जिन्होंने इन पूर्वोत्तर प्रदेशों की समृद्ध विरासत और विविधता का जश्न मनाया।
पंजाब के राज्यपाल और प्रशासक यूटी चंडीगढ़ श्री बनवारी लाल पुरोहित ने समारोह की अध्यक्षता करते हुए विविधता में एकता के महत्व पर जोर दिया और भारत के सांस्कृतिक तानेबाने में मणिपुर, मेघालय और त्रिपुरा के अद्वितीय योगदान के बारे में बताया।

इस कार्यक्रम में चंडीगढ़ में पढ़ रहे उत्तर-पूर्वी राज्यों के छात्रों द्वारा पारंपरिक नृत्य, संगीत और काव्य-गायन का प्रदर्शन किया गया, जिससे पंजाब के निवासियों को पूर्वोत्तर क्षेत्र की सांस्कृतिक समृद्धि की मनमोहक झलक देखने को मिली।
पंजाब राजभवन में अयोजित इस स्थापना दिवस समारोह ने पूर्वोत्तर राज्यों और पंजाब के बीच एक सेतु के रूप में कार्य किया, जिससे सांस्कृतिक आदान-प्रदान और सामंजस्य को बढ़ावा मिला। इस कार्यक्रम ने राष्ट्रीय एकता और अखण्डता की भावना को मजबूत करते हुए विविधता में एकता के महत्व को दर्शाया।
इस दौरान मेघालय के राज्यपाल श्री फागू चौहान के वीडियो संदेश के साथ-साथ सिस्टर स्टेट्स पर आधारित एक वृत्तचित्र भी दिखाया गया।

राष्ट्रीय एकता कार्यक्रम के तहत सद्भावना यात्रा पर आए लद्दाख और लेह के छात्र भी इस समारोह में शामिल हुए।
इस अवसर पर उपस्थित प्रमुख लोगों में भारत के एडिशनल सॉलिसिटर जनरल श्री सत्यपाल जैन, पंजाब के राज्यपाल के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री के. शिव प्रसाद आईएएस, प्रशासक यूटी चंडीगढ़ के सलाहकार श्री नितिन कुमार यादव और यूटी चंडीगढ़ के अन्य वरिष्ठ आईएएस और आईपीएस अधिकारी शामिल थे।

ब्यूरों रिपोर्टः कुमार योगेश / संजीव कुमार /अच्छे लाल (चंडीगढ़)

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *