श्री किशोर मकवाना को राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष जैसे महत्वपूर्ण पद पर नियुक्त करना मोदी सरकार का स्वागत योग्य निर्णय —- कैंथ

author
0 minutes, 2 seconds Read
Spread the love

न्याय परिक्रमा न्यूज़ चंडीगढ

पश्चिम बंगाल में संदेशखाली अनुसूचित जाति समुदाय के कथित अत्याचारों और हिंसा पर काबू पाने और सामाजिक न्याय लाने के लिए के अध्यक्ष नियुक्त महत्वपूर्ण

कैंथ “परमजीत कैंथ ने भगवंत मान सरकार से पंजाब में तुरंत अनुसूचित जाति आयोग बनाने की मांग ”

चंडीगढ़ , (अच्छेलाल), प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार द्वारा राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष के रूप में श्री किशोर मकवाना की नियुक्ति का भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जाती मोर्च के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री परमजीत सिंह कैंथ ने स्वागत किया। अनुसूचित जाति के साथ अत्याचार, सामाजिक बहिष्कार, शोषण, हत्या और सामाजिक न्याय तथा राजनीतिक क्षेत्र में आरक्षण जैसी अत्यंत महत्वपूर्ण गंभीर स्थितियों में उत्पीड़क के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई करने में सार्थक वातावरण बनाने में महत्वपूर्ण और रचनात्मक भूमिका निभाना है राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग। भारत की राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू ने राष्ट्रीय अनुसूचित जातीय आयोग में संवैधानिक पद के रूप में भारत सरकार के सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग ने अध्यक्ष पद के लिए श्री किशोर मकवाना को नियुक्ति पत्र जारी करने का आदेश दिया है।

श्री कैंथ ने कहा कि राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष जैसे महत्वपूर्ण पद पर रहते हुए श्री किशोर मकवाना पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखाली में कथित अनुसूचित जाति समुदाय के खिलाफ अत्याचार और हिंसा को नियंत्रित और सामाजिक न्याय की प्रक्रिया में तेजी और सफल होगी। पश्चिम बंगाल में अनुसूचित जाति की 21.51 प्रतिशत आबादी को नजरअंदाज करते हुए, तृणमूल कांग्रेस सरकार में औरतौ को अराजकता, लूटपाट, जबरन वसूली, शोषण और दलित के कथित यौन शोषण का शिकार बना दिया है। श्री कैंथ ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस की ममता सरकार में राजनीतिक नेताओं के संरक्षण में सरकार द्वारा आतंक, गुंडागर्दी, उत्पीड़न और लूटपाट, बलात्कार, जमीन पर जबरन कब्जा और महिलाओं पर अत्याचार का ऐसा नंगा नाच खेला गया है और आतंक के माहौल को शांत करने के लिए रचनात्मक कदम इसे आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया जा सकता है।दलित नेता श्री परमजीत सिंह कैंथ ने कहा कि भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार अनुसूचित जाति आयोग पंजाब का गठन करने में विफल रही है। भारतीय जनता पार्टी एससी मोर्चा ने भगवंत मान सरकार के अनुसूचित जाति विरोधी आचरण की निंदा की है। श्री कैंथ ने पंजाब में अनुसूचित जाति आयोग के तत्काल गठन की मांग की है।

ब्यूरों रिपोर्टः कुमार योगेश/ अच्छे लाल/संजीव कुमार(चंडीगढ)

👆 न्याय परिक्रमा यूट्यूब चैनल पर देखिये पूरा वीडियो

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *