परमात्मा को जानने के लिए ही मिला हैं मानुष्य का जन्म ,समय रहते आत्मा अपने मूल परमात्मा की कर ले पहचान/अनुपम त्यागी

author
0 minutes, 3 seconds Read
Spread the love

न्याय परिक्रमा न्यूज़ सहारनपुर

सहारनपुर। सन्त निरंकारी मिशन की ओर से रात्री सत्संग का आयोजन हकीकत नगर में किया गया मुजफ्फरनगर से पधारे प्रचारक महात्मा अनुपम त्यागी ने साध संगत को सम्बोधित करते हुए कहा कि।

आज यहां हम सभी निरंकार ईश्वर की बात कर रहें हैं। वहीं कबीर दास जी ने भी फरमाया है बैठा पण्डित पढ़े पुराण,, बिन देखें का करें बखान,, लोग कहें कागज़ की लेखी,, में कहूं अंखियन की देखी,, परमात्मा की बात की जा रही है संसार पढ़ कर परमात्मा का जिक्र कर रहा है लेकिन आप सन्त महात्मा परमात्मा का निज स्वरूप जानकार आखों से परमात्मा का दर्शन कर उसकी भक्ती कर रहे हैं।

उन्होंने कहा की आज यहां खुले मंच से इस मोहल्ले में रहने वाले लोगों को सतगुरु का पैगाम दिया जा रहा है की आओ रब के दर्शन कर लो संदेशा हैं इंसानों को खुला सन्देश दिया जा रहा है की मनुष्य जीवन में ही अपने मूल परमात्मा का दर्शन किया जा सकता हैं निरंकारी मिशन में एक को जानो एक को मानों एक हो जाओ के नारे के साथ सभी को ईश्वर के साथ जोड़ने का प्रयत्न किया जा रहा है।

इससे पर्व कई लोगों ने अपने गीत विचारों से ईश्वर की महिमा का वर्णन किया। इस मौके पर, संयोजक हरबंश लाल जुनेजा गीतकार राजकवि, मुजफ्फर नगर से आशीष पालीवाल, मोहित दूबे, परमजीत सिंह पम्मी, सेवादल संचालक संजीव भण्डारी, सेवादल सहायक शिक्षिका नेहा, बहन गीता, मनमोहन काका,लक्ष्मीचंद, पवन जोरावर, अनुराग डोगरा, प्रिंस प्रजापति, अशोक कुमार, आदि मोजूद रहें मंच का संचालक मनमोहन कृष्ण ने किया।

ब्यूरों रिपोर्टः मोनू कुमार/कुमार योगेश (सहारनपुर)

👆 न्याय परिक्रमा यूट्यूब चैनल पर देखिये पूरा वीडियो।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *