पारस हेल्थ में हर्निया पर सिम्पोजियम आयोजित की गई

author
0 minutes, 3 seconds Read
Spread the love

न्याय परिक्रमा न्यूज़ चंडीगढ

पंचकुला, (अच्छेलाल), यमुनानगर के सर्जनों के लिए पारस हेल्थ, पंचकूला में हर्निया पर एक सिम्पोजियम आयोजित की गई। डिस्कशन जटिल हर्निया वाले रोगियों के इमरजेंसी सर्जिकल मैनेजमेंट पर केंद्रित थी।सिम्पोजियम के दौरान पारस हेल्थ पंचकूला में वरिष्ठ सलाहकार-जनरल और मिनिमल एक्सेस सर्जरी डॉ. अमित बंसल द्वारा एक्सटेंडेड टोटल एक्स्ट्रा पेरिटोनियल एप्रोच के साथ हर्निया के केस का डेमोस्ट्रेशन किया गया।सुप्रा अम्बिलिकल हर्निया का एक केस और बाइलैटरल इंग्वाइनल हर्निया का केस भी डेमोस्ट्रेशन किया गया।सिम्पोजियम को संबोधित करते हुए डॉ. अमित बंसल ने कहा कि इस तकनीक में हम रेक्टस मसल्स के पीछे प्रवेश करते हैं और दोनों रेक्टस मसल्स के पीछे मेश लगाया जाता है, जिससे यह आंत के संपर्क में आने से बच जाता है। इस रिपेयर में सिंगल लेयर मेश (प्रोलीन) का उपयोग किया जाता है और मेश को ठीक करने के लिए हमें इसकी आवश्यकता होती है, डॉ. अमित बंसल ने बताया।डॉ. अमित ने आगे कहा कि हालांकि हर्निया पहले एक गंभीर मेडिकल कंडीशन थी, लेकिन नवीन चिकित्सा प्रक्रियाएं, विशेष रूप से लैप्रोस्कोपी/एंडोस्कोपी हर्निया के ऑपरेशन के लिए वरदान रही हैं।मांसपेशियां कमजोर होने के कारण कई तरह की समस्याएं उत्पन्न होती है। जब कमजोर मांसपेशी या टिशू में छेद के माध्यम से, अंदर का अंग बाहर आता है तो उसे हर्निया कहते हैं।डॉ. अमित बंसल ने कहा कि हर्निया की सर्जरी के लिए इस्तेमाल की जाने वाली तकनीक में कई इनोवेशन हुए हैं, जिनमें लैप्रोस्कोपी भी शामिल है। हाल ही में कई नए उत्पाद, इम्प्लांट व मेश भी इंट्रोड्यूस किए गए हैं।

ब्यूरों रिपोर्टः कुमार योगेश/ अच्छे लाल/संजीव कुमार(चंडीगढ)

👆 न्याय परिक्रमा यूट्यूब चैनल पर देखिये पूरा वीडियो।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *