मोहाली में एनएबी इंस्टीट्यूट फॉर द ब्लाइंड और एक आई केयर सेंटर का उद्घाटन हुआ

author
0 minutes, 3 seconds Read
Spread the love

न्याय परिक्रमा न्यूज़ चंडीगढ

एडवांस आई सेंटर, पीजीआई के प्रमुख डॉ. एसएस पांडव व रोटरी क्लब ऑफ चंडीगढ़ के पूर्व जिला गवर्नर मधुकर मल्होत्रा भी रहे मौजूद

चण्डीगढ़, मोहाली, (अच्छेलाल), एंबेसी ऑफ़ जापान द्वारा दी गई वित्तीय सहायता से नेशनल एसोसिएशन फॉर द ब्लाइंड (एनएबी) के चांदपुर (ब्लॉक माजरी, मोहाली) में एक नए भवन व नेत्र देखभाल केंद्र का उद्घाटन हुआ। संस्थान का उद्घाटन कोडेरा जीरो काउंसलर ऑफ इकोनॉमिक्स सेक्शन, एंबेसी ऑफ जापान इन इंडिया साथ ही प्रथम सचिव निशी रयुही एंबेसी ऑफ जापान इन इंडिया की उपस्थिति में हुआ। विश्व प्रसिद्ध ग्लूकोमा विशेषज्ञ और एडवांस आई सेंटर, पीजीआई के प्रमुख डॉ. एसएस पांडव, रोटरी क्लब ऑफ चंडीगढ़ के पूर्व जिला गवर्नर मधुकर मल्होत्रा और टास्कस के स्वयंसेवकों की 18 सदस्यीय टीम भी यहां उपस्थित थी l टास्कस पिछले 3 वर्षों से नेत्र जांच, ऑक्यूपेशन थेरेपी, वोकेशनल ट्रेनिंग और केंद्र में आवश्यक अन्य उपकरणों की साज-सज्जा करने में मदद कर रहा है। एडवांस आई सेंटर, पीजीआई के सहयोग से परिसर में एक निःशुल्क नेत्र जांच शिविर भी आयोजित किया गया, जिसमें सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों और अन्य लोगों की आंखों की जांच की गई। जरूरतमंदों को निशुल्क चश्में भी वितरित किए गए।एनएबी के अध्यक्ष विनोद चड्ढा ने कहा कि यह उपक्रम जापान और भारत के बीच मित्रता और सहयोग के मजबूत बंधन को दर्शाता है तथा यह संस्थान जरूरतमंद लोगों के जीवन को बेहतर बनाने की दिशा में इन दोनों देशों की साझा प्रतिबद्धता का प्रतीक है।उन्होंने एनएबी के मिशन के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इसके तहत विकलांग व्यक्तियों को व्यापक सेवाएं प्रदान की जाती हैं और जरूरतमंद लोगों को आंखों की रोशनी खोने से बचाने के साथ ही नजर कमजोर होने, उनके रोकथाम और इलाज व देखभाल की सेवाएं उपलब्ध कराई जाती हैं। इससे पहले, संस्थान के भवन का एक चरण एसबीआई फाउंडेशन के सहयोग से पूरा हो चुका है। विकलांग व्यक्तियों और कमजोर वर्ग के लिए कल्याणकारी गतिविधियों के लिए अब 10,000 वर्ग फुट से अधिक क्षेत्र उपलब्ध है। इस संस्थान के नेत्र देखभाल केंद्र में मुफ्त नेत्र शिविर एक नियमित विशेषता है और अब बहु-विकलांग व्यक्तियों के लिए ऑक्यूपेशनल चिकित्सा भी उपलब्ध है।मुख्य अतिथि, एंबेसी ऑफ जापान इन इंडिया से कोडेरा जीरो ने कहा कि जापान वैश्विक कल्याण के लिए मजबूत साझेदारी को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है। दृष्टिहीन संस्थान और नेत्र देखभाल केंद्र को हमारा समर्थन भारत के साथ हमारे साझा मूल्यों को दर्शाता है।विनोद चड्ढा ने कहा कि वे भारत में जापान के दूतावास और जापान के लोगों के प्रति आभारी हैं, जिन्होंने इस संस्थान भवन के निर्माण में बहुत बड़ा योगदान दिया है। जापान के लोगों की उदारता ने न केवल हमारे देशों के बीच मित्रता और सहयोग के बंधन को मजबूत किया है, बल्कि हम जिन लोगों की सेवा करते हैं, उनके लिए एक उज्जवल भविष्य की राह भी प्रशस्त की है।एडवांस आई सेंटर के प्रमुख डॉ. एस.एस. पांडव ने कहा कि मुफ्त नेत्र शिविर आयोजित करने के इस नेक प्रयास के लिए नेशनल एसोसिएशन फॉर द ब्लाइंड के साथ मिलकर काम करके खुश हैं। साथ मिलकर हम नेत्र देखभाल की ज़रूरत वाले लोगों के लिए एक उज्जवल भविष्य का निर्माण करेंगे।

ब्यूरों रिपोर्टः कुमार योगेश/ अच्छे लाल/संजीव कुमार(चंडीगढ)

👆 न्याय परिक्रमा यूट्यूब चैनल पर देखिये पूरा वीडियो।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *