ब्रेन-डेड व्यक्ति की किडनी को ले जाने के लिए मोहाली में ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया

author
0 minutes, 3 seconds Read
Spread the love

न्याय परिक्रमा न्यूज़ चंडीगढ

मैक्स अस्पताल में 50 वर्षीय मरीज में किडनी ट्रांसप्लांट की गई

मोहाली, (अच्छेलाल), ब्रेन-डेड व्यक्ति की किडनी को ले जाने के लिए रविवार को फोर्टिस हॉस्पिटल, मोहाली और मैक्स सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल, मोहाली के बीच एक ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया। मैक्स डॉक्टरों की एक टीम द्वारा निकाली गई किडनी को 50 साल के एक मरीज में सफलतापूर्वक ट्रांसप्लांट किया गया, मरीज पिछले 2 वर्षों से किडनी फेलियर से पीड़ित था।किडनी को जल्दी से ले जाने के लिए एम्बुलेंस के लिए यातायात को क्लियर रख कर ग्रीन कॉरिडोर बनाने के लिए पंजाब पुलिस की मदद ली गई ।मैक्स हॉस्पिटल के सीनियर वीपी ऑपरेशंस डॉ. पिनाक मोदगिल ने बताया कि इलाज के दौरान डोनर को ब्रेन डेड घोषित कर दिया गया था। उनका परिवार उनके अंगों को दान करने के लिए सहमत हो गया और रविवार को फोर्टिस में उनकी किडनी निकाली गईं।पंजाब पुलिस द्वारा बनाए गए ग्रीन कॉरिडोर के कारण किडनी को मैक्स अस्पताल तक पहुंचाने में केवल 10 मिनट लगे। डॉ. पिनाक ने कहा, इसके लिए हम किडनी को जरूरतमंद मरीजों तक जल्दी पहुंचाने के लिए कॉरिडोर बनाने के लिए पंजाब पुलिस की सराहना और धन्यवाद करते हैं।ट्रांसप्लांटेशन सफल रहा और रिसिपिएंट मरीज की हालत फिलहाल स्थिर है। मैक्स में किडनी ट्रांसप्लांट के एसोसिएट डायरेक्टर डॉ. जगदीश सेठी ने बताया कि कुछ दिनों में मरीज को अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी।डॉ. सेठी ने आगे कहा, “अंगदान के प्रति जागरूकता बहुत जरूरी है। ऑर्गन ट्रांसप्लांटेशन से कई अनमोल जिंदगियां बचाई जा सकती हैं। विडंबना यह है कि भारत ट्रांसप्लांटेशन के लिए अंगों की भारी कमी से जूझ रहा है। यह अनुमान लगाया गया है कि दस लाख से अधिक लोग अंतिम चरण के ऑर्गन फेलियर से पीड़ित हैं, लेकिन सालाना केवल 3,500 ट्रांसप्लांटेशन ही किए जाते हैं।एसपी (यातायात) हरिंदर सिंह मान ने कहा, ”हम ऑर्गन ट्रांसप्लांटेशन जैसी महत्वपूर्ण, बहु-राज्य जीवन रक्षक पहल में अपनी भूमिका पर गर्व करते हैं। मोहाली पुलिस ऑर्गन के सुरक्षित औरफास्टपरिवहन के लिए ग्रीन कॉरिडोर की सुविधा के लिए प्रतिबद्ध रहेगी। हम कम्युनिटी मेंबर्स को अंगदान के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए प्रोत्साहित करते हैं, जिसमें अनगिनत जिंदगियां बचाने की क्षमता है।”

ब्यूरों रिपोर्टः कुमार योगेश/अच्छे लाल(चंडीगढ)

👆 न्याय परिक्रमा यूट्यूब चैनल पर देखिये पूरा वीडियो।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *