गंगोह ब्लॉक में स्वयं सहायता समूह से जुड़ी महिलाओं के साथ हुआ धोखा

author
0 minutes, 2 seconds Read
Spread the love

न्याय परिक्रमा न्यूज़ सहारनपुर

करोडो रूपए सरकार से रोजगार के लिए आने के बावजूद भी दुखी है महिलाए

(इरशाद हमीद)

सहारनपुर/ गंगोह। स्वयं सहायता समूह से जुड़ी महिलाओं के हाथ लगी निराशा ब्लाक अधिकारियों ने दिया था 2 दिन का आश्वासन चार दिन होने के बाद भी उनकी किसी भी समस्या का नहीं हुआ समाधान ।ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा संचालित राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत जिला सहारनपुर के ब्लॉक गंगोह में प्रेरणा महिला संकुल स्तरीय समिति के पदाधिकारी बैंक खाते में आए समूह सखियों बैंक सखियों बीसी सखियों तथा सी आई एफ की धनराशी को दिनांक 27.4.2024 में विकासखंड गंगोह की सभाकार कक्ष में हुई बैठक में बीडियो एडिओ आइ एस बी भूतपूर्व ब्लॉक प्रमुख दिनेश कुमार बी एम एम संविदा कर्मचारी अनुराग फैजल तथा विरांगना स्वयं सहायता समिति के सलाहकार ओमकार शर्मा की मौजूदगी में एन आर एल एम योजना से जुड़ी महिलाओं की समस्यायों के समाधान के लिए प्रमुख दिनेश कुमार व खण्ड विकास अधिकारी गंगोह ने दो दिन का समय मांगा था लेकिन चार दिन का समय होने के बाद भी समुह सखियो का मानदेय नहीं दिलवाया गया है सी एल एफ महंगी की वर्तमान सचिव अनीता ने जानकारी दी है कि ब्लॉक के कर्मचारी अनुराग द्वारा हमें जानबूझकर दो लिस्ट की जगह एक लिस्ट थमा दी गई थी

जिसके कारण समूह सखियों का मानदेय नहीं दिया जा सका वह लिस्ट 3,95,233 की थी और उसे लिस्ट पर किसी भी अधिकारी के हस्ताक्षर नहीं थे हमने 27 तारीख में हुई बैठक के दौरान लिस्ट मांगी थी लेकिन हमें लिस्ट नहीं दी गई चार दिन होने के बावजूद भी हमें लिस्ट नहीं दी जा रही हैं समूह सखियों का मानदेय दो बार आया है एक बार 129450 रुपए तथा एक बार 265783 रुपए जब मानदेय दो बार आया है तो लिस्ट भी दो ही होनी थी नियम अनुसार लेकिन फर्जी गाइडलाइन के द्वारा जानबूझकर ब्लॉक ने हमें फंसाने के इरादे से एक लिस्ट ही हमें थमा दी जिसके कारण समूह सखियों का वेतन आज तक उनके खाते में हस्तांतरण नहीं हो सका। 27 अप्रैल को हुई बैठक में समूह सखी बड़ी उम्मीद लगा कर गर्मी में अपने मानदेय के लिए किराया भाड़ा लगाकर आईं थीं लेकिन किसी भी अधिकारी ने उनकी गरीबी बेबसी मजबूरी ओर परेशानी को नहीं समझा और उन्हें झूठा आश्वासन देकर वापस भेज दिया सी एल एफ महंगी की सचिव अनीता ने जानकारी दी की 18 मार्च 2024 को हमारी समिति का खाता इंडियन बैंक की शाखा महंगी में खुला हुआ है वहां के शाखा प्रबंधक महोदय धर्मेंद्र कुमार ने हमारे साथ दुर्व्यवहार किया और हमारी तुलना कुत्ते बिल्ली से की और हमारे खाते के बारे में उन्होंने जानकारी दी कि यह खाता आपका नहीं है मैं आपको जानता भी नहीं हूं यह खाता तो सरकारी खाता ब्लॉक का है और इस खाते को सरकार ब्लॉक द्वारा ही चलायेंगी। अब हमें बताएं कि हम समुह सखियो को वेतन कैसे देंगे जब खाता ब्लॉक का है और पिछले तीन वर्षों से ब्लॉक के अधिकारी व बैंक के अधिकारी दोनों मिलकर इस खाते का संचालन कर रहे हैं तो फिर आगे भी वहीं इसी प्रक्रिया के द्वारा खाते का संचालन करेंगे या प्रेरणा महिला संकुल स्तरीय समिति के पदाधिकारी। यह तो जांच होने के बाद ही पता चलेगा। अनीता ने यह भी जानकारी दी कि हमारी मदद कर रही वीरांगना स्वयं सहायता समिति (रजि०)के सलाहकार ओमकार शर्मा को 27 अप्रैल की बैठक में एडियो अलवर ने जान से मारने की धमकी भी दी है जब हमने खंड विकास
अधिकारी से इस घटना की जानकारी दी तो उन्हें उन्होंने हमें कार्रवाई करने का आश्वासन दिया लेकिन आज तक इस प्रकरण में कोई भी कार्रवाई नहीं की गई है और न ही संविदा कर्मचारी अनुराग के खिलाफ जिन्होंने हमें फर्जी लिस्ट समूह सखियों के मानदेय की बिना अधिकारियों के हक्ष्ताक्षर के ही दो लिस्ट की जगह एक लिस्ट ही हमें थमा दी थी अब इन्तजार करना होगा कि एन आर एल एम योजना से जुड़ी गरीब बेसहारा अशिक्षित महिलाओं की समस्याओं का समाधान कितने समय में हो पाएगा।

ब्यूरों रिपोर्टः कुमार योगेश/ इरशाद हमीद गंगोह(सहारनपुर)

👆 न्याय परिक्रमा यूट्यूब चैनल पर देखिये पूरा वीडियो।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *