जिंदल व गुप्ता चुनाव के बाद दिखाई नहीं देंगेः अभय सिंह चौटाला

author
0 minutes, 4 seconds Read
Spread the love

न्याय परिक्रमा न्यूज़ चंडीगढ

देश की जनता सरकार बदलेगी-अभय सिंह चौटाला

हम चार पीढियों से जनता के बीच में हैं भाजपा ने रेल, हवाई कंपनी व हवाई अड्डे तक बेच डाले।

अभय चौटाला ने किया चुनावी जनसंपर्क, लोगों से की वोट की अपील

कुरुक्षेत्र, (अच्छेलाल), इनेलो प्रत्याशी अभय चौटाला ने सोमवार को लाडवा हलका के दर्जनों गांवों का दौरा कर वोट की अपील की। उन्होंने गांव मोरथला में आयोजित जनसभा में भाजपा सहित कांग्रेस पर जमकर हमला बोला और कहा कि देश की जनता अब बदलाव चाहती है और लोकसभा चुनाव में बदलाव होगा। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद प्रदेश व देश के हालात खराब हैं। भाजपा शासन में हर वर्ग दुखी है। भाजपा द्वारा किए गए वायदों में से एक भी वायदा पूरा नहीं हुआ। अब भाजपा फिर से झूठा नारा 400 पार का दे रही है। लोगों को झूठा झांसा देकर विकसित भारत का सपना दिखा रहे हैं। भाजपा यह नहीं बता रही कि उन्होंने पिछले दस साल में कौन-कौन से वायदे किए थे और कौन-कौन से पूरे किए हैं। उल्टा भाजपा ने सभी बड़ी-बड़ी सरकारी संस्थाओं को अंबानी अडानी को दे दिया। जिनसे सरकार के खजाने भरते थे। भाजपा ने रेल, हवाई कंपनी व हवाई अड्डे तक बेच डाले। इसके साथ-साथ बीमा क्षेत्र की कंपनियां, बैंकों को भी बेच दिया। यहां तक कि 19 लाख करोड़ का कर्जा वसूलने की बजाए बड़े लोगों अंबानी व अडानी का कर्ज माफ कर दिया। अब विकसित भारत की बात कर रहे हैं। जिन्होंने देश बेच दिया, आप उनसे यह उम्मीद कैसे कर सकते हैं कि वे विकसित भारत बनाएंगे। मोदी ने कहा था कि भाजपा की सरकार आने पर कांग्रेस ने 70 साल में पैसा लूटकर जो विदेशों में जमा करवाया है, उसे वापस लाकर सभी के खाते में 15 लाख रुपये जमा करवाए जाएंगे। वायदा किया था कि हर साल दो करोड़ बच्चों को नौकरी व रोजगार दिया जाएगा। दस साल में बीस करोड़ को रोजगार मिलना था। किसानों से एमएसपी का कानून बनाने का वायदा किया था। 2022 में फसल के दाम दोगूने करने का वायदा किया था। फसल के दो दोगूना तो नहीं हुए, बल्कि फसलें खेतों में ही पिट रही हैं। एमएसपी देने की बजाए किसान सस्ते में फसल बेचने पर मजबूर हैं। एक भी वायदा पूरा नहीं किया। तीन काले कानून बनाए। यदि वे कानून लागू हो जाते तो किसान अपने ही खेतों में नौकर के रूप में काम करने को मजबूर हो जाते। पांच राज्यों के किसानों ने एकत्रित होकर सरकार से लंबी लड़ाई लड़ी। तब जाकर देश के प्रधानमंत्री को अपना फैसला वापस लेना पड़ा। प्रधानमंत्री ने वायदा किया था कि एमएसपी का कानून बनाएंगे, जो आज तक पूरा नहीं हुआ है। भाजपा कार्यकाल में महंगाई, भ्रष्टाचार बढ़ा दिया है। कानून व्यवस्था खराब है। किसान, व्यापारी, मजदूर व कर्मचारी दुखी हैं। हर कोई इस सरकार को बदलना चाहता है। प्रदेश में सडकें टूटी पड़ी हैं। प्रॉपर्टी आईडी के नाम पर हरियाणा को परेशान किया जा रहा है। बुजुर्गों की बुढ़ापा पैंशन काट दी। गरीब लोगों के राशन कार्ड काट दिए। दो लाख से अधिक पीले राशन कार्ड काट दिए। पांच लाख से अधिक बुजुर्गों की पेंशन काट दी। हर गांव की अपनी समस्या थी। बहुत से गांवों में रोजगार की तलाश में बच्चे विदेश चले गए हैं। अभय चौटाला ने कहा कि लोगों ने फैसला कर लिया है कि सरकार को बदलना है। इस सरकार को बदलने के लिए लोगों को अपने पराये की पहचान करनी होगी। भाजपा प्रत्याशी नवीन जिंदल दस साल से लापता था। आप प्रत्याशी सुशील गुप्ता को लोगों को अता-पता ही नहीं है। अब ये चुनाव में आएंगे, इसके बाद कभी देखने को नहीं मिलेंगे। पूर्व सीएम हुड्डा 10 साल सीएम रहे। किसी गांव में नहीं गए। न ही पूर्व सीएम मनोहर लाल खट्टर गांवों में नहीं गए। पूर्व डिप्टी पीएम चौधरी देवीलाल व पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला हमेशा गांवों में रहे हैं। हम चार पीढियों से लोगों के बीच में हैं। चौधरी देवीलाल ने बुजुर्गों की जो पेंशन शुरू की थी, वह बढकर आज तीन हजार हो गई है। गरीब घर में दो बुजुर्गों को छह हजार रुपये मिल रहे हैं तो घर में गुजारे में मदद मिलती है। चौधरी देवीलाल ने गरीब की बेटी के बयाह में 5100 रुपये की योजना शुरू की थी, जो आज बढकर एक लाख तक पहुंच गई है। उन्होंने कई उपकरणों से टेक्स माफ कर दिए थे। ओमप्रकाश चौटाला ने सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत करोड़ों रुपये के काम करवाए। इसीलिए अब चुनाव में अपने व पराये को पहचानें। चौधरी देवीलाल व ओमप्रकाश चौटाला यदि आपके अपने थे तो एक-एक वोट 25 मई को इनेलो को दें और उन्हें विजयी बनाएं। अभय चौटाला के साथ इनेलो नेता शेर सिंह बड़शामी सहित अनेकों गणमान्य कार्यकर्ता मौजूद थे।

ब्यूरों रिपोर्टः कुमार योगेश/अच्छे लाल(चंडीगढ)

👆 न्याय परिक्रमा यूट्यूब चैनल पर देखिये पूरा वीडियो।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *