चंडी मंदिर वेस्टर्न कमांड हॉस्पिटल में जीवन रक्षक आपातकालीन मल्टी ऑर्गन हार्वेस्ट सर्जरी की गई

author
0 minutes, 1 second Read
Spread the love

न्याय परिक्रमा न्यूज़ चंडीगढ

चंडीगढ़, (अच्छेलाल), पश्चिमी कमान अस्पताल, चंडीमंदिर की अंग उपयोजन और प्रत्यारोपण टीम ने हिमाचल प्रदेश के पालमपुर के 70 वर्षीय निवासी मृतक सूबेदार (सेवानिवृत्त) अर्जुन सिंह संगोत्रा पर एक बढिया ढंग से मल्टी ऑर्गन हार्वेस्ट प्रक्रिया संचालित की, जिन्होंने भारतीय सेना की जम्मू और कश्मीर राइफल्स में 30 वर्षों तक सेवा निभाई। ब्रेन स्ट्रोक के कारण आईसीयू में उन्हें ब्रेन डेड घोषित कर दिया गया। मृतक के परिजनों ने लीवर, किडनी और कॉर्निया दान करने का फैसला किया, जिससे गंभीर रूप से बीमार तीन सैनिकों को नया जीवन मिला है।प्रत्यारोपण टीम का नेतृत्व प्रोफेसर और सर्जिकल टीम के प्रमुख ब्रिगेडियर अनुज शर्मा और मुख्य प्रत्यारोपण समन्वयक, कर्नल अनुराग गर्ग ने किया। ट्रांसप्लांट टीम ने मृतक के अंगों को एक घंटे के भीतर निकालने और इसके लिए स्थापित ग्रीन कॉरिडोर के माध्यम से दिल्ली छावनी के आर्मी हॉस्पिटल (आर एंड आर) तक पहुंचाने के लिए रात भर का मैराथन ऑपरेशन किया।वेस्टर्न कमांड हॉस्पिटल, चंडीमंदिर जो कि आशा की किरण बना हुआ है, ने अंग दान के उद्देश्य को बढ़ावा देने में मिसाल कायम की है। इस निस्वार्थ कार्य के लिए मृतक के परिवार की भी सराहना की जा रही है।

ब्यूरों रिपोर्टः कुमार योगेश/अच्छे लाल(चंडीगढ)

👆 न्याय परिक्रमा यूट्यूब चैनल पर देखिये पूरा वीडियो।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *